दबंगों की धमकी से परेशान दलित पुजारी ने लगाई मदद की गुहार

फतेहपुर : गांव में आज भी दलितों को मंदिर में पूजा का हक नहीं मिला है अगर दलित पुजारी ही बना हो तो दबंग सवर्णो को दर्द होना लाजमी है। ऐसा ही मामला फतेहपुर के जाफरगंज क्षेत्र के मंदिर का है जिसमें दलित पुजारी को मंदिर से बेदखल करके मंदिर की जमीन पर दबंग काबिज होना चाहते हैं। दलित पुजारी ने दबंगों से मंदिर और खुद को बचाने की गुहार लगाई है।

जाफरगंज थाना क्षेत्र के श्यामपुर सुल्तानगढ के दलित पुजारी मंझिल ने पुलिस कप्तान सहित अन्य आलाधिकारियों को प्रार्थनापत्र देते हुए गुहार लगाई है कि उसे गांव के उन दबंगों से बचाया जाये जो मंदिर और मंदिर के नाम की जमीन पर बलात कब्जा करने की नीयत से उसे दलित होने के चलते जातिसूचक शब्दों से अपमानित करते हैं और मंदिर न छोडने पर जान से मारने की धमकी देते हैं।

पीड़ित दलित पुजारी मंझिल की माने तो ग्राम के दुर्गेश दीक्षित के पूर्वजों द्वारा बनवाये गये दुर्गा मंदिर की केयर टेकर की हैसियत से वह देखरेख व पूजापाठ करता है तथा मंदिर के नाम की जमीन से मिलने वाली कृषि आमदनी से मंदिर में भोग व अन्य परम्परागत धार्मिक कार्यक्रमों को सम्पन्न कराता रहता है। कुछ दिनों से गांव का एक दबंग सवर्ण परिवार उसे दलित होने की बात कहते हुए अपमानित करता है और मंदिर व उसकी जमीन पर कब्जे की नीयत से मंदिर व जमीन से अलग न होने पर पूरे परिवार सहित जान से मार डालने की धमकी देकर आतंकित करता है।

पीड़ित ने बताया कि वह बेहद दहशत में है और किसी तरह छिपते-छिपाते पुलिस कप्तान तक अपनी गुहार लगाने आया है। अपर पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पीड़ित दलित को न्याय दिलाया जाएगा और इस मामले की जांच करके दोषियों के विरूद्ध कठोर से कठोर कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.