राष्ट्रीय

हिंदी की पहली आदिवासी कथाकार एलिस एक्का

आदिवासी साहित्यकारों द्वारा हिंदी कथा लेखन का प्रारंभ एलिस पूर्ति (एक्का) से माना जाता है. आदिवासी भाषाओं में कथा लेखन का श्रेय मुंडारी लेखक मेनस ओड़अ: को है. एलिस एक्का ने पचास के दशक में कथा लेखन का प्रारंभ किया. प्रसिद्ध कथाकार राधाकृष्ण के संपादन में 3 फरवरी 1947 ई. ...

Read More »

दलित हूं पर सबसे ज्यादा तकलीफ दलितों ने ही दी’

सांसद और दलित नेता उदित राज नई दिल्ली। दिल्ली से बीजेपी सांसद और दलित नेता उदित राज ने कहा है कि दलित समाज की सोच का स्तर अभी बढ़ा नहीं है। उन्होंने कहा कि ये समाज दलित नेता के कहने पर नहीं बल्कि केवल पार्टी के नाम पर वोट देता ...

Read More »

शहरों को दलित समुदाय की इच्छाओं-उम्मीदों का केंद्र बनना था, लेकिन इसका उल्टा क्यों हो रहा है?

भारत में साल-दर-साल दलितों के खिलाफ हिंसा के बढ़ते मामले बताते हैं कि देश की राजनीति इस मामले में बुरी तरह चूक रही है. द इंडियन एक्सप्रेस की संपादकीय टिप्पणी राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के ताजा आंकड़े इस धारणा को ध्वस्त करते हुए दिखाई दे रहे हैं कि शहरी ...

Read More »

विमर्श- सिकुड़ता लेखक-पाठक संबंध

पिछले लंबे अरसे से यह समस्या साहित्य से जुड़े हर व्यक्ति को परेशान किए है कि आम पाठक साहित्य से कट गया है और साहित्य उसकी प्राथमिकताओं में नहीं है। शंभु गुप्त  साहित्य और पाठक के बीच का रिश्ता बहुत आत्मीय और अन्योन्याश्रित होता है। साहित्य जब भी सबसे पहले ...

Read More »

ताज महल का दीदार कर अपना भारत दौरा शुरू करेंगे बेल्जियम के सम्राट और महारानी

बेल्जियम के सम्राट फिलिप और महारानी माथिल्डे की यह भारत यात्रा दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंधों के 70 साल पूरे होने के मौके पर भी हो रही है। भारत आ रहे बेल्जियम के सम्राट फिलिप और महारानी माथिल्डे ताज महल की यात्रा के साथ रविवार को देश के सात ...

Read More »